Thursday, 27 September 2012


बहुत खूबसूरत रहा होगा साथ उसका
लम्हें गुज़रते गए पर वक़्त ठहर गया

मंजरी ...............

No comments:

Post a Comment